मैं सर्वगुण संपन्न आत्मा हूं। सफलता का बीज अब पेड़ बनके खिला है।