हे शांत आत्मा,
चलिए शुक्रिया करते है हमारे अलौकिक पिता ब्रम्हांड का और आगे बढ़ते है आजके कॉस्मिक मेल की तरफ।

क्यों हम खूब सारी मेहनत करने के बावजूद भी सफल नहीं हो पाते है? क्या कोई गलती कर रहे है हम?

इस सवाल पे हमारे अलौकिक पिता ब्रम्हांड हमसे कुछ कहना चाहते है:

मेरे प्यारे बच्चो,
मैं आपका अलौकिक पिता ब्रम्हांड हूं। आप सभी मेरे कण है और मैं कण कण मे हूं। मैं हमेंशा तत्पर रहता हूं मेरे बच्चो की मदद करने के लिए। बड़ा ही सही सवाल किया है मेरे बच्चो ने मुझे आज। इस सवाल का जवाब भी बहुत सरल है।

जब मेरे बच्चे शरीर धारण करके इस सृष्टि मे आते है तो उनका नैतिक धर्म होता है कर्म करना। पिछले जन्म के कर्मो का लेखा जोखा तेय करता है की मेरे बच्चे कहा जन्म लेंगे, उसके भाग्य कैसे होंगे, उसका स्वास्थ्य कैसा रहेगा आदि. मैं आपका पिता होने के नाते समझता हूं की पिछले जन्म की बाते मान लेना थोड़ा मुश्किल है क्यूंकि आप पिछले जन्म को जानते नहीं हो। वह सारी चीज़े जो हमारे अनुभव से बाहर है उसको मान ने मे मेरे बच्चो को थोड़ी मुश्केली होती है। खैर, आज आप जो भी है वह पिछले जन्म के कर्म की वजह से है और साथ ही साथ कुछ परिस्थितिया इस जन्म के कर्मो पे भी आधारित है। अब तक जो हुआ सो हुआ लेकिन अगर मेरे बच्चे आज और अभी से निर्णय करते है की अब मैं कोई बुरा कर्म नहीं करूँगा तो यह संकल्प भी अपने आप मे बहोत बड़ी बात है। जैसे ही आप ये संकल्प करेंगे आपका भाग्य भी बदल ना शुरू हो जायेगा।

एक अच्छा सा उदाहरण है। अभी मेरे बच्चे या तो सुई लेके युद्ध करने निकले है या तो तलवार से कपडे सीने की कोशिश कर रहे है इस लिए सारी परेशानिया हो रही है। और ये कौन करवाता है आपसे सोचा है कभी? आपका भाग्य! और भाग्य को बदलनेके लिए मेरे बच्चो को सबसे पहले एक संकल्प करना होगा की आज और अभी से मैं कोई बुरा कर्म नहीं करूँगा। आपका भाग्य अपने आप बदलना शुरू हो जायेगा और युद्ध मे सुई के बदले तलवार आ जाएगी।

अब ये तो हुई आने वाले कल के कर्मो की बात लेकिन मेरे बच्चे क्या करेंगे अगर बीते हुए कल मे कोई बुरा कर्म हो गया है तो? आप मेरा ध्यान लगाए। अपने 24 घंटे मे से सिर्फ 15 मिनिट आप ध्यान लगाए। बहोत आसान है। एक जगह बिछौना लगाके स्थिर और सीधे बैठ जाये। आँखे बंध रखे और अपनी सांसो पे ध्यान दे। अगर कोई विचार आता भी है तो उसे रोकने का प्रयास ना मारे बल्कि पुनः सांसो पे ध्यान केंद्रित करें। ऐसा रोज़ 15 मिनिट तक करें। मैं वादा करता हूं आपसे आपका अलौकिक पिता होने के नाते की मैं आपके सारे बीते हुए कल के एवं पिछले जन्मो के सारे बुरे कर्मो का नाश कर दूंगा। भरोसा रखे मुझपे। मै आपका अलौकिक पिता हूं।”